मध्य प्रदेश के प्रमुख त्यौहार-Famous Festival Of Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश के प्रमुख त्यौहार-Famous Festival Of Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश में पुरे वर्ष में विभिन्न सांस्कृतिक और धार्मिक उत्सव मनाए जाते हैं। ये त्यौहार मध्य प्रदेश की  संस्कृति और परंपरा का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस लेख में हम आप को मध्य प्रदेश में मनाये जाने वाले कुछ प्रमुख त्यौहार के सम्बंधित जानकारी देने जा रहे हैं।

मध्य प्रदेश के प्रमुख त्यौहार

खजुराहो महोत्सव :इस मोहत्सव का आयोजन मुख्य रूप से चित्रगुप्त एवं विश्वनाथ मंदिर के सामने खुले मैदान में किया जाता है। सात दिन तक चलें वाला यह महोत्सव में विभिन्न प्रकार का नृत्य प्रदर्शन किया जाता है। इस समारोह का मुख्य उद्देश्य भारतीय शास्त्रीय नृत्य को बढ़ावा देना और भारतीय संस्कृति और परंपराओं को प्रदर्शित करना है। इस समारोह में भरतनाट्यम, कथक, ओडिसी, कुचिपुड़ी, मोहिनीअट्टम, मणिपुरी, कथकली, और अन्य भारतीय शास्त्रीय नृत्य शैलियों के प्रदर्शन किया जाता है।

भगोरिया हाट पर्व :भगोरिया महोत्सव मुख्य रूप से मध्य प्रदेश के मालवा क्षेत्र में हर साल फरवरी के महीने में  भील जनजाति के द्वारा मनाया जाता है। भगोरिया हाट पर्व प्रेम और विवाह को बढ़ावा देने केउदेश्य में  मनाया जाता है। इस त्योहार के दौरान, युवा पुरुष और महिलाएं एक साथ आते हैं और नृत्य, संगीत और खेल के माध्यम से एक-दूसरे को जानते हैं। यह त्योहार युवाओं को अपने लिए जीवनसाथी खोजने का एक अवसर प्रदान करता है।इस पर्व में विशेष रूप से आदिवासी युवक एवं युवतिओं को अपने पसंद का जीवनसाथी चुनने का अवसर मिलता है।

कुम्भ मेला : कुम्भा मेला भारत के अन्य राज्यों के साथ साथ मध्य प्रदेश में भी आयोजित किया जाता है। इस मध्य प्रदेश का सबसे प्रसिद्ध मेला माना जाता है।इस मेले में श्रद्धालु शिप्रा नदी में स्नान करने और भगवान शिव की पूजा करने के लिए आते हैं।मेले में कई धार्मिक प्रवचन, भजन, संगीत और नृत्य प्रदर्शन किये जाते हैं।

मालवा उत्सव :प्रति वर्ष मई माह को मध्य प्रदेश के इंदौर एवं उज्जैन में इस त्यौहार का आयोजन किया जाता है।मालवा उत्सव 5 दिनों के लिए आयोजित किया जाता है जो विभिन्न कला,संगीत,नृत्य,नाटक और संस्कृति को प्रदर्शित करता है।

लोकरंग समारोह :लोकरंग समारोह को मुख्य रूप से जनवरी माह में मध्य प्रदेश के भोपाल में किया जाता है। इस समारोह का अवधि लगभग 4 से 5 दिन तक होता है। इस समारोह का मुख्य उदेश्य मध्य प्रदेश का प्राचीन सभ्यता को पुनर्जीवित करना होता है।

तानसेन समारोह :इस समारोह को मध्य प्रदेश में एक उत्सव की तरह मनाया जाता है। यह आयोजन भारत के प्रसिद्ध संगीतकार तानसेन को श्रद्धांजलि देने के लिए मनाया जाता है। इस समारोह का आयोजन दिसंबर माह में चार दिन तक ग्वालियर के बेहट गांव में आयोजन किया जाता है।

मध्य प्रदेश के प्रमुख त्यौहार और स्थान 
  • खजुराहो महोत्सव :- खजुराहो
  • भगोरिया हाट पर्व :- मालवा क्षेत्र
  • तानसेन समारोह :- ग्वालियर
  • लोकरंग समारोह :- भोपाल
  • मालवा उत्सव :- इंदौर एवं उज्जैन
  • कालिदास समारोह :- उज्जैन
  • निमाड़ उत्सव :- खंडवा , खरगौना

मध्य प्रदेश के त्यौहार से सम्बंधित प्रश्न 

1. 
भगोरिया मेला का आयोजन कहाँ किया जाता है ?

2. 
मेघनाथ पर्व मुख्य रूप से कौन-सी जनजाति मानाती है ?

3. 
गण-गौर उत्सव में किसकी आराधना की जाती है ?

4. 
हीरा भूमिया का मेला कहाँ लगता है ?

5. 
किस उत्सव में आदिवासी युवक एवं युवतिओं को अपने पसंद का जीवनसाथी चुनने का अवसर मिलता है ?

6. 
तानसेन संगीत समारोह कहां आयोजित किया जाता है ?

7. 
मध्य प्रदेश हिंदी ग्रंथ अकादमी कहां स्थित है ?

8. 
मध्यप्रदेश में "मालवा उत्सव" कहां आयोजित किया जाता है ?

9. 
राम की रावण पर विजय में मनाया जाने वाला उत्सव है ?

10. 
कालिदास समारोह कहां आयोजित किया जाता है ?

मध्य प्रदेश से सम्बंधित अन्य लेख

दोस्तों में आशा करता हूँ की आप को हमारा यह मध्य प्रदेश का प्रमुख त्यौहार से सम्बंधित लेख पसंद आया होगा। आप को हमारा यह लेख कैसा लगा आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं। दोस्तों हम रोज़ इसी तरह नयी नयी सामान्य ज्ञान के पोस्ट आप के लिए लाते रहते हैं , अगर आप इसी तरह के पोस्ट को पढ़ना पसंद करते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को जरूर सबस्क्राइब करें।  धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top